Rasgulla Recipe in Hindi – रसगुल्ला रेसिपी (बनाने की विधि)

रसगुल्ला बनाने की विधि - Rasgulla

आज की डिश है मीठा मीठा गोल गोल डेजर्ट जो देखने में सफेद होता है और टेस्ट में जबरदस्त होता है। जी, वो और कोई नही रसगुल्ला है। रसगुल्ला सुनकर आई न बंगाल की याद। आएगी ही क्योकि रसगुल्ला उनकी स्पेशलिटी है जिसके दीवाने सिर्फ बंगाल में ही नही बल्कि पूरे देश में है, इसलिए आज हम Rasgulla Recipe लेके आए है।

रसगुल्ला की लोकप्रियता

रसगुल्ला एक फेमस बंगाली मिठाई है जो लाखो लोगो की फेवरेट मिठाई है। बंगाली तो ख़ास रसगुल्ला के लिए फेमस है। उनकी ये मिठाई पूरे देश में बहुत ज्यादा पसंद की जाती है। कुछ लोग इसे त्योहारों पर उपहार के रूप में अपने ख़ास लोगो को देते है। मेरे घर पर तो सभी रसगुल्ला के दीवाने है। सभी का बस चले तो रोज खाए।

रसगुल्ला का स्वाद और फ्ल्वोर

रसगुल्ला एक सॉफ्ट और मीठी डिश है। इसका स्वाद और फ्लेवर इतना जबरदस्त होता है कि एक व्यक्ति एक बार में दो से चार रसगुल्ला खा जाए। इसमें गुलाब जल डाला जाता है जिस वजह से इसका फ्लेवर अति उत्तम होता है। दूध के छेने में सूजी मिलाकर चाशनी में जब रसगुल्ला डुबोकर बनाया जाता है इसका स्वाद अतिउत्तम हो जाता है।

रसगुल्ला की खासियत

रसगुल्ला एक टेस्टी और लाजवाब स्वाद वाली डिश है। इसे बनाने की रेसिपी तो आसान है लेकिन इनको बनाने के लिए काफी समय की जरुरत पड़ती है। इसको बनाने के लिए हर स्टेप्स को ध्यान से फॉलो करना जरुरी है। ये डिश बहुत सॉफ्ट होती है। इसे बच्चे और बढे सभी बहुत पसंद करते है। ये स्वस्थ के लिए अच्छी होती है क्योकि इसमें दूध का इस्तेमाल होता है। अगर आपको शुगर है तो आप इसमें चीनी की जगह शुगर फ्री का इस्तेमाल करे और बिना डरे खूब सारे रसगुल्ला खा जाए।

रसगुल्ला कैसे सर्व करे

  • रसगुल्ला को आप डेजर्ट के रूप में सर्व करे।
  • खाने के बाद मीठे के रूप से इसे सर्व करे।
  • घर पर मेहमानों को खाने के बाद सर्व करे।
  • त्योहारों पर अपने ख़ास रिश्तेदारों को तोहफे के रूप में सर्व करे।

 

रसगुल्ला बनाने की विधि - Rasgulla
5 from 1 vote
Print

रसगुल्ला (Rasgulla) बनाने की विधि हिंदी में

रसगुल्ला एक फेमस डिश है जिसको बनाना आज आप सीखने वाले है। Rasgulla Recipe को ध्यान से पढ़े और बना ले। इसको बनाना कोई राकेट साइंस नही है। इसे आप आसानी से घर पर बना सकते है और अपने परिवार को खिलाकर इम्प्रेस कर सकते है।

Prep Time 10 minutes
Cook Time 35 minutes
Total Time 45 minutes
Servings 10

Ingredients for रसगुल्ला (Rasgulla)

  • फुल फैट वाला गाय का दूध – 4 कप
  • नीम्बू का रस – 2 टेबल स्पून
  • चीनी – 2 कप
  • दूध – 1 टी स्पून
  • रवा – 1 टी स्पून
  • गुलाब जल – 2 टी स्पून

How to Make रसगुल्ला (Rasgulla)

  1. गैस पर मोटे तले वाला एक बर्तन रखे और दूध को उबालने रखे। आंच मध्यम कम होनी चाहिए।

  2. जब तक दूध उबल रहा है आप एक बाउल के ऊपर सूती कपडा बिछा दे।

  3. दूध को बीच बीच में चलाते रहे ताकि दूध के ऊपर मलाई न बने और दूध तले पर न चिपके और न जले।

  4. जब दूध में उबाल आए, आंच को बिलकुल कम कर दे और इसमें नीबू का रस डाले। 2 से 3 चम्मच नीम्बू का रस डाले।

  5. अब चम्मच से दूध को चलाए।

  6. अगर दूध ठीक से नही फट रहा हो तो आप थोडा सा और नीम्बू का रस डाल दे।

  7. जब दूध में पानी और छेना अलग हो जाए आंच बंद करे।

  8. अब इसे उस बाउल के ऊपर डाले जिसके ऊपर आपने सूती कपडा बिछा रखा है।

  9. जब पूरा बर्तन आप उस पर उड़ेल दे, तब चारो तरफ से कपडा उठा ले और अच्छे से लपेट ले। अब इस लपेटे हुए कपडे को बहते हुए पानी के नीचे लाए थोड़ी देर बहते पानी पकडे रहे ताकि इसमें से नीम्बू का खट्टापन निकल जाए।

  10. अब अपने हाथो से कपडे को बाहर से दबाए और छेने में से पानी निचोड़ दे। ऐसा करना जरूरी है वरना अगर छेने में ज्यादा नमी रह गई तो रसगुल्ला बनाने में परेशानी होगी।

  11. अब प्लेट में या छन्नी पर ये कपड़ा रखे और इसके ऊपर 7 से 8 मिनट तक कुछ भारी पत्थर या कोई भारी चीज रखे। आपके पास कुछ भारी चीज नही है तो आप इसे आधे घंटे के लिए कही पर टांग दे।

  12. 7 से 8 मिनट बाद कपडे पर से वो भारी सामान हटा ले और कपडा खोले।

  13. अब छेने को एक बाउल में निकाले और उसमे 1 चम्मच रवा मिला दे।

  14. अब छेने को और रवा को अच्छे से मिक्स करके और मसलते हुए अच्छे से गूंथे।

  15. अगर आपको लग रहा है कि छेने में ज्यादा नमी है तो आप इसमें थोडा सा मैदा डाल दे और फिर अच्छे से मसले।

  16. अगर आपको लग रहा है छेना सुखा सुखा है और अच्छे से गूँथ नही रहा है तो आप इसमें एक से दो चम्मच पानी मिलाए और फिर मसलकर गूँथे।

  17. जब मसलते मसलते आपको अपने हाथो में चिकनाहट महसूस होने लगे मसलना रोक दे, क्योकि छेना अच्छे से गुंथ गया है।

  18. आप छेने को बहुत ज्यादा चिकना नही करे। 10 मिनट तक मसलना काफी होता है।

  19. अब छेने में से थोडा सा छेना ले और हथेलियों की मदद से गोला बना ले। इसी तरह सभी गोले तैयार कर ले।

  20. जब आप सभी गोले तैयार कर ले इस पर गीला सूती कपडा रखे और ढककर रख दे।

  21. अब एक बड़ा बर्तन ले और उसमे 4 कप पानी और 2 कप चीनी डाले और उबालने रखे।

  22. जब चीनी पानी में अच्छे से घुल जाए इसमें एक चम्मच दूध डाले और मिक्स करे। ऐसा करने से दूध में से गंदगी निकल जाएगी।

  23. जब चीनी का घोल गरम हो जाएगा, गन्दगी ऊपर ऊपर आ जाएगी, आप इसे चम्मच से निकाल ले। 

  24. अब चीनी के घोल में से एक कप घोल निकाल ले और बाकी को मध्यम आंच पर उबालने रखे।

  25. अब एक एक करके रसगुल्ला के गोले चीनी के घोल में डाले।

  26. अब कपडे की मदद से बर्तन को उठाए और हल्का सा हिला ले। 

ध्यान रखे

  1. अब बर्तन पर ढक्कन लगा दे और रसगुल्ला पका ले।

  2. आंच मध्यम ही रहने दे।

  3. अब 4 मिनट बाद इसमें 1/4 कप चीनी का घोल डाले जो अपने एक कप में निकालकर रखा था। 

  4. फिर से बर्तन पर ढक्कन लगा दे और पका ले।

  5. 4 मिनट बाद ढक्कन हटाए और इसमें फिर से 1/4 कप चीनी का घोल डाले।

  6. अब फिर ढक्कन लगा ले और 2 मिनट और पका ले।

  7. अब आप देख्नेगे रसगुल्ला फूल गए है और पक गए है। 

  8. अब एक रसगुल्ला निकाले और उसको दबाकर देखे, दबाने के बाद अगर रसगुल्ला फिर से पहले आकार में आ गया तो इसका अर्थ है रसगुल्ला पक गया है। एक और तरीके से आप चेक कर सकते है। एक गिलास में पानी डाले और उसके एक रसगुल्ला डाले। अगर रसगुल्ला नीचे चला गया है और वापिस ऊपर नही आया है तो इसका अर्थ है रसगुल्ला पक गया है।

  9. अब आंच बंद करे और एक बाउल में एक एक करके रसगुल्ला निकालकर डाले।

  10. अब चीनी का घोल जिसमे हमने रसगुल्ला पकाया है वो रसगुल्ला वाले बाउल में डाल दे।

  11. जब रसगुल्ला और चीनी का घोल ठंडा हो जाए इसमें गुलाब जल डाले और हल्के हाथ से चम्मच से मिला ले।

  12. अब घोल को ऐसे ही कम से कम आधा घंटा रहने दे ताकि रसगुल्ला चीनी का घोल और गुलाब जल का फ्लेवर चूस ले।

  13. अब रसगुल्ला सर्व करे। आप चाहे तो इसे फ्रिज में रखकर ठंडा करे और फिर सर्व करे।

Notes

  • रसगुल्ला में आप गुलाब जल की जगह हरी इलायची का पाउडर या केवडा जल भी डाल सकते है।

  • रसगुल्ला में इलायची या गुलाब जल या केवड़ा जल डालना जरुरी है वरना रसगुल्ला खाते समय आपको दूध का फ्ल्वोर आएगा।

  • अगर चीनी के घोल में आपको कुछ गंदगी नही दिख रही तो आप इसमें दूध नही डाले।

  • जब हम चीनी का घोल बना रहे थे, तब एक कप चीनी का घोल निकालना जरुरी है । इसे में रसगुल्ला पकाते समय बीच से दो बार, यानि चार चार मिनट के बाद डालना जरुरी है। ऐसा इसलिए क्योकि ऐसा करने से चीनी चाशनी जैसी गाढ़ी या एक तार की नही हो पाती।

  • छेने को अच्छे से मसलना जरुरी है वरना रसगुल्ला पकाते समय टूट जाएगे।

  • जब तक हाथो में चिकनाहट महसूस नही होती तब तक छेने को मसलना है।

  • रसगुल्ला चेक करते समय अगर रसगुल्ला पानी में डालने के बाद ऊपर वापिस आ जाता है इसका अर्थ है रसगुल्ला ठीक से नही पका और और इसे और पकाने रख दे।

  • इस डिश को बनाने के लिए फुट फैट वाला गाय का दूध ही इस्तेमाल करे।

  • अगर छेने में नमी ज्यादा रह गई तो रसगुल्ला बनाते वक्त रसगुल्ला टूट जाएगा। और अगर छेने में नमी कम रह गई तो रसगुल्ला बनांने के बाद या तो रबर जैसा हो जाएगा या फिर चपटा हो जाएगा। ज्यादा नमी लगे तो मैदा डाले और ज्यादा सुखा लगे तो एक टेबल स्पून पानी डाले और मसल ले।

आज आप एक टेस्टी Rasgulla Recipe सीख गए है, बस कमर कसिए और आज ही बना लीजिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recipe Rating